241 Love Shayari, Best Romantic Shayaries

Love Shayari Image

Hindi Shayari and love Romantic shayari with images

Soul love Shayari
Hindi Shayari

स्पर्श वो नहीं जिसमें शरीर को पाया हो..
स्पर्श वो जिसने आत्मा को गले लगाया हो।

sparsh vo nahin jisamen shareer ko paaya ho..
sparsh vo jisane aatma ko gale lagaaya ho.

सफ़र वही तक हैं जहां तक तुम हो,
नज़र वही तक हैं जहां तक तुम हो,
फूल बहुत देखे हैं इस गुलशन में,
खुशबू वही तक हैं जहां तक तुम हो.

Safar Wahi Tak Hain Jaha Tak Tum Ho,
Nazar Wahi Tak Hain Jaha Tak Tum Ho,
Phool Bahut Dekhe Hain Is Gulshan Mein,
Khusbu Wahi Tak Hain Jaha Tak Tum Ho.

Moon lines
Hindi Shayari

हर एक मंज़र पर उदासी छाई है,
चाँद की रौशनी में व् कमी आई है,
अकेले अच्छे थे हम अपने ाशिएने में,
जाने क्यू टूट क्र आज फिर आपकी याद आई है.

Har ek manzar pr udasi chhayi hai,
Chand ki roshni me v kami aayi hai,
Akale achhe the hm apne aashiane me,
Jane Q toot kr aaj fir apki yaad aayi hai.

Couples lovers

मेरी तन्हाई को अब एक मेहमान चाहिए
मुझको फरेबी नहीं, एक इंसान चाहिए
अँधेरे है ज़िन्दगी में दूर तलक बहुत
मुझको उजालों का कारवां चाहिए…..!!

meree tanhaee ko ab ek mehamaan chaahie
mujhako pharebee nahin, ek insaan chaahie
andhere hai zindagee mein door talak bahut
mujhako ujaalon ka kaaravaan chaahie…..!!

Love Shayari in Hindi

Here are Hindi Shayari & Romantic Shayari in English. Kabir Singh love songs video

Believe love hindi shayari
Love Shayari in Hindi

क्या कहें हम रखते ही नहीं खबर कौन कैसा है…
कर लेते हैं भरोसा हर एक पर अपना तो दिल ही ऐसा है।

kya kahen ham rakhate hee nahin khabar kaun kaisa hai…
kar lete hain bharosa har ek par apana to dil hee aisa hai.

दूरियां बहुत है मगर इतना समझ लो.
पास रहकर ही कोई खास नहीं होता.
तुम इस कदर पास हो मेरे दिल के..
मुझे दूरियों का एहसास नहीं होता.

Dooriyan bahut hai magar itna samajh lo.
Paas rehkar hi koi khas nahi hota.
Tum iss kadar paas ho mere dil ke..
Mujhe dooriyon ka Ehsaas nahi hota.

kaise main bataoon Eye
Love Shayari in Hindi

कैसे मैं बताऊं किस कदर उसके सपने सजते है,
उसके दिलकश नजारो के आगे चाँद तारे भी फ़िके लगते है।
शराब से ज्यादा नशीली है उसकी आंखें,साहब..,
तुम क्या जानो हमको पता है हम कैसे बचते है…

kaise main bataoon kis kadar usake sapane sajate hai,
usake dilakash najaaro ke aage chaand taare bhee fike lagate hai.
sharaab se jyaada nasheelee hai usakee aankhen,saahab..,
tum kya jaano hamako pata hai ham kaise bachate hai…

Dhadkan me

चुपके से धड़कन में उतर जायेंगे,
राहें उल्फत में हद से गुज़र जायेंगे,
आप जो हमें इतना चाहेंगे,
हम तो आपकी साँसों में पिघल जायेंगे.

Chupke se dhadkan me utar jaayenge,
Raahen Ulfat me had se guzar jaayenge,
Aap jo hamen itna chahenge,
Hum to aapki saanson me pighal jaayenge.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *